चीन की ‘‘दादागीरी’’ से निपटने के लिए अमेरिका का साथ दे वियतनाम : हैरिस

अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने दक्षिण-पूर्व एशिया की यात्रा के दौरान चीन के खिलाफ अपना तीखा रुख बरकरार रखते हुए, दक्षिण चीन सागर में चीन की ‘‘दादागीरी’’ से निपटने के लिए वियतनाम से अमेरिका का साथ देने को कहा।

वियतनाम के राष्ट्रपति गुयेन जुआन फुक के साथ द्विपक्षीय बैठक से पहले उन्होंने कहा, ‘‘ हमें बीजिंग पर संयुक्त राष्ट्र के समुद्री कानून का पालन करने, उसकी दादागीरी तथा उसके बढ़ा-चढ़ाकर किए जाने वाले नौवहन संबंधी दावों को चुनौती देने के लिए दबाव बनाने और दबाव बढ़ाने के तरीके तलाशने की जरूरत है।’’

हैरिस ने मंगलवार को भी कहा था कि चीन दक्षिण चीन सागर के बड़े क्षेत्र में जबरदस्ती अपना दबदबा कायम करने, धमकाने और दावे करने का काम कर रहा है।

हैरिस ने बुधवार को वियतनाम में कहा कि दक्षिण चीन सागर में अपने सुरक्षा हितों की रक्षा में मदद करने के लिए अमेरिका देश को अतिरिक्त ‘यूएस कोस्ट गार्ड कटर’ भेजने का समर्थन करता है। उन्होंने वियतनाम को एक रणनीतिक साझेदार से एक व्यापक साझेदार बनाने के फैसले का भी स्वागत किया।

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने चीन के प्रभाव का मुकाबला करने के प्रयास में हिंद-प्रशांत क्षेत्र में अपने गठजोड़ को मजबूत करने के लिए यह कदम उठाया।

गौरतलब है कि वियतनाम दक्षिण चीन सागर में चीन के क्षेत्रीय दावों का मुखर विरोधी रहा है और वह अमेरिका के एक प्रमुख भागीदार के रूप में उभरा है।
 

By News Room