चुनाव आयोग ने नहीं मानी ममता की सलाह, पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार होंगे विस चुनाव

पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार चरम पर है. तमाम राजनीतिक पार्टियों के बड़े नेता बंगाल में अपने दल के प्रत्याशियों के समर्थन बड़ी बड़ी रैलियाँ कर रहे हैं. यह सब तब हो रहा है जब बंगाल सहित पूरे देश में एकबार फिर कोरोना के मामले रिकार्ड स्तर पर लगातार बढ़ रहे हैं. बंगाल में पिछले कुछ दिनों के दौरान कोरोना संक्रमितों की संख्या में भारी वृद्धि दर्ज की गई है.

राज्य में कोरोना के लगातार बढ़ते प्रकोप की वजह से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग से मांग की थी कि राज्य में बाकी बचे 4 फेज के मतदान एक ही साथ कराया जाए. लेकिन चुनाव आयोग ने ममता बनर्जी की मांग से साफ इनकार कर दिया है. चुनाव आयोग ने स्पष्ट कहा है कि बंगाल विधानसभा चुनाव अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार ही होंगे.

चुनाव आयोग की सर्वदलीय बैठक आज

विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान बंगाल में कोविड संबंधी नियमों की जमकर अनदेखी की जा रही है. इसी मुद्दे पर आज चुनाव आयोग ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है. उम्मीद की जा रही है कि चुनाव आयोग चुनाव प्रचार के दौरान राजनीतिक दलों द्वारा कोविड नियमों की अवहेलना पर नियंत्रण के लिए सख्त दिशा निर्देश जारी कर सकता है.

By Pankaj Kumar