भवानीपुर सीट से विधानसभा उपचुनाव लड़ेंगी ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपनी परंपरागत भवानीपुर विधानसभा से सीट उपचुनाव लड़ने जा रही है. भवानीपुर विधानसभा सीट से तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार के रूप में जीते शोभन देव ने अपने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने अपना इस्तीफा बंगाल विधानसभा अध्यक्ष बिमान बनर्जी को भेजा है. जिसमें उन्होंने स्वेच्छा से इस्तीफा देने की बात कही है. शोभन देव का इस्तीफा स्वीकार कर लिया गया है.

भवानीपुर के विधायक पद से इस्तीफा देने के बाद शोभन देव ने कहा कि सरकार चलाने के लिए ममता बनर्जी का विधायक होना जरुरी है. पार्टी में किसी अन्य के पास सरकार चलाने का साहस नहीं है. मैंने पार्टी नेताओं से यह सुना है कि वे भवानीपुर से चुनाव लड़ना चाहती हैं तो मैंने सहर्ष इस्तीफा देना स्वीकार किया. यह सीट उन्हीं की है मैं सिर्फ उनका प्रतिनिधि मात्र था.

6 महीने के अंदर बनना होगा विधायक

दरअसल, ममता बनर्जी बंगाल विधानसभा में भवानीपुर सीट का ही प्रतिनिधित्व करती थी लेकिन इस बार के चुनाव में उन्होंने भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी को टक्कर देने के लिए नंदीग्राम से विधानसभा चुनाव लड़ा जिसमें उन्हें अधिकारी के हाथों 1953 वोटों से शिकस्त का सामना करना पड़ा. हार के बावजूद ममता बंगाल की मुख्यमंत्री तो बन गयी हैं लेकिन नियमतः उन्हें 6 महीने के भीतर बंगाल विधानसभा का सदस्य बनना होगा नहीं तो उन्हें मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ सकता है. इसलिए ममता बनर्जी अपनी परंपरागत भवानीपुर सीट की तरफ लौट रही हैं. शोभन देव का इस्तीफा ममता के विधानसभा सदस्य बनने की रणनीति की शुरुआत है.

By Pankaj Kumar