कोरोना नियंत्रण के लिए लॉकडाउन एकमात्र विकल्प- मेडिकल सलाहकार, व्हाइट हाउस

भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना महामारी से 3,57,229 लोग संक्रमित हुए हैं. इसके साथ ही भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित होनेवाले मरीजों का कुल आंकड़ा 2 करोड़ को पार करते हुए 2,02,82,833 हो गया है. वहीँ पिछले 24 घंटे में कोरोना से हुई 3,449 मौतों की वजह से कुल मौतों का आंकड़ा 2,22,408 हो गया है.  पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना से 3,20,289 लोग जहाँ संक्रमण मुक्त हुए हैं. देश में कोरोना के कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 34,47,133 हो गयी है.

वैक्सीन

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक भारत में 3 मई तक 15 करोड़ 90 लोगों को कोरोना वैक्सीन दी जा चुकी है.

CT स्कैन समाधान नहीं

आज कल कोरोना संक्रमितों के बीच सीटी स्कैन कराने के लिए लम्बी लम्बी कतारें देखी जा रही हैं. इस पर एम्स, दिल्ली के निदेशक रणदीप गुलेरिया का कहना है कि अगर संक्रमित में कोरोना के माइल्ड लक्षण हैं और घर पर हैं तो सीटी स्कैन से परहेज करें क्योंकि इससे फायदे से ज्यादा नुकसान है. गुलेरिया ने कहा कि  एक सीटी स्कैन 300-400 चेस्ट एक्सरे के बराबर है. बार-बार सी.टी. स्कैन करवाने पर कैंसर का खतरा होता है. अगर सिम्पटम नहीं है. पहले चेस्ट एक्सरे कराने के बाद अगर जरूरत हो और अगर हॉस्पिटल में हों तो डॉक्टर की सलाह से ही सी.टी. स्कैन कराएं.

अमेरिकी सहायता में बाधा

भारत में कोरोना महामारी के प्रचंड रूप से फैलने के बाद दुनिया के कई देश इस आपदा की घड़ी में भारत के समर्थन के लिए आगे आए हैं और जरुरी मेडिकल उपकरणों की आपूर्ति कर रहे हैं. अमेरिका भी भारत को मेडिकल उपकरण उपलब्ध करा रहा है. जानकारी के मुताबिक भारत के लिए जरुरी मेडिकल वस्तुएं लेकर आने वाला एक अमेरिकी विमान तकनिकी समस्याओं की वजह से तय समय पर उड़ान नहीं भर सका. अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन के प्रवक्ता के अनुसार तीन यूएस एयरफोर्स C-5 सुपर गैलेक्सी विमान और एक C-17 ग्लोबमास्टर विमान को सोमवार को भारत के लिए जरूरी मेडिकल सप्लाई लेकर निकलना था, लेकिन मेंटेनेंस में कुछ दिक्कत के चलते बुधवार तक इसमें देरी होगी. आपको बता दें कि अमेरिकी सरकार द्वारा कुछ दिन पहले मेडिकल उपकरणों से भरा एक विमान भारत भेजा गया था.

लॉकडाउन विकल्प

 भारत में कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों और मौतों की संख्या को देखते देशव्यापी लॉकडाउन की मांग उठने लगी है. इसी बीच व्हाइट हाउस के मेडिकल सलाहकार और संक्रामक रोगों के विशेषज्ञ एंथनी फाउची भारत में कोरोना नियंत्रण के लिए लॉकडाउन को एकमात्र उपाय बताया है.पीटीआई को दिए एक साक्षात्कार में उन्होंने कहा कि, 'भारत की स्थिति को देखते हुए वहां कुछ हफ़्तों के लिए देशव्यापी लॉकडाउन की जरुरत है. इसके साथ ही भारत सरकार को वैक्सीनेशन, अस्थायी अस्पतालों का व्यापक रूप से निर्माण तथा जरुरी मेडिकल उपकरणों का व्यापक रूप से प्रबंधन करना चाहिए ताकि इस महामारी को नियंत्रित किया जा सके.'

By Pankaj Kumar