कोरोना की रफ्तार का असर, मोदी, ममता के सभाओं में बदलाव, राहुल ने रद्द किए सभी चुनावी कार्यक्रम

देश में कोरोना की बढ़ती रफ्तार और जनता की फटकार के बाद नेताओं ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के मद्देनजर आयोजित अपनी रैलियों के कार्यक्रम में बड़ा परिवर्तन किया है. बंगाल विधानसभा चुनाव में भाजपा के सबसे बड़े प्रचारक पीएम नरेंद्र मोदी की चुनावी रैलियों के कार्यक्रम में व्यापक फेरबदल किया गया है. पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार नरेंद्र मोदी को 22 अप्रैल को मालदा और मुर्शिदाबाद में और 24 अप्रैल को भवानीपुर और बीरभूम में चुनावी सभा करनी थी. लेकिन इन चुनावी सभाओं के कार्यक्रम में बदलाव किया गया है. उपरोक्त चारों चुनावी सभाएं अब 23 अप्रैल को होंगी. मोदी एक ही दिन ये चार चुनावी सभाएं करेंगे. बंगाल विधानसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी के चुनाव प्रचार का यह आखिरी दिन होगा. इसी दिन भाजपा बंगाल चुनाव के बाकी चरणों के क्षेत्रों को कवर करने की कोशिश करेगी.

ममता की रैली में भी कटौती

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी अपनी चुनावी रैलियों की संख्या में कटौती कर दी है. ममता बनर्जी को अगले एक सप्ताह के अंदर 17 चुनावी सभाएं करनी थी. जिसमें कुछ सभाएं कोलकाता में होने वाली थी. बनर्जी ने कोलकाता की अपनी सभी चुनावी सभाएं रद्द कर दी हैं तथा बाकी क्षेत्रों की रैलियों की समय सीमा भी कम कर दी है.

राहुल ने की थी शुरुआत

आपको बता दें कि देश में बेकाबू होते कोरोना के लहर को देखते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने पश्चिम बंगाल में आयोजित अपनी सभी रैलियाँ रद्द कर दी थीं.

By Pankaj Kumar