बंगाल विधानसभा चुनाव परिणाम का संकेत, मोदी-शाह अजेय नहीं- संजय राउत 

बंगाल विधानसभा चुनाव में प्रचंड जीत दर्ज करने वाली तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी को देश की सभी प्रमुख राजनीतिक पार्टियों की तरफ से बधाइयाँ मिल रही हैं. साथ ही विपक्षी नेता ममता बनर्जी को जीत के बाद यह भी कहने लगे हैं कि मोदी और शाह अजेय नहीं हैं लेकिन उनके सामने ममता बनर्जी जैसी जुझारू नेत्री होनी चाहिए जो उनके सवालों का उन्हीं के अंदाज में जवाब दे सके.

ममता बनर्जी की जीत पर उन्हें बधाई देते हुए शिवसेना के राष्ट्रीय प्रवक्ता और राज्य सभा सांसद संजय राउत ने कहा है कि तमाम संसाधनों के उपलब्ध होने  के बावजूद बंगाल विधानसभा चुनाव में भाजपा की हार इस बात की और इशारा करती है कि मोदी-शाह की जोड़ी अजेय नहीं है. संजय राउत ने शिवसेना के मुख पत्र सामना में लिखा है कि बंगाल के लोग इस बात के लिए बधाई के पात्र हैं कि वे भाजपा द्वारा किए गए कृत्रिम वादों के झांसे में नहीं आए और ममता बनर्जी को समर्थन दिया. राउत ने कहा कि देश को बंगाल से सीखना चाहिए. 

कांग्रेस ने बंगाल में भाजपा की हार को उसके घमंड की हार बताया है. हालाँकि कांग्रेस खुद बंगाल में एक भी सीट नहीं जीत पाई है. एनसीपी प्रमुख शरद पवार, सपा प्रमुख अखिलेश यादव, आप नेता अरविन्द केजरीवाल, राजद नेता तेजस्वी यादव, महबूबा मुफ़्ती, उमर अब्दुल्ला सभी ने ममता बनर्जी को बंगाल में तृणमूल की ऐतिहासिक जीत पर बधाई दी है. आपको बता दें कि 294 सीटों वाली बंगाल विधानसभा में ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस ने 213 सीटों पर जीत हासिल की है. तृणमूल की जीत का यह आंकड़ा 2016 विधानसभा चुनावों से भी बड़ा है. हालाँकि ममता बनर्जी व्यक्ति रूप से नंदीग्राम विधानसभा सीट से कभी अपने सहयोगी रहे और वर्तमान में भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी से चुनाव हार गयी हैं.

By Pankaj Kumar